UPSC Mains 2017 : General Studies Paper-2

UPSC conducted General Studies Paper-2 of civil services mains examination on 30th October 2017.

1. “भारत में स्थानीय स्वशासन पद्धति, शासन का प्रभावी साधन साबित नहीं हुई है |” इस कथन का समालोचनात्मक परिक्षण कीजिए तथा स्थिति में सुधार के लिए अपने विचार प्रस्तुत कीजिए |
“The local self-government system in Inia has not proved to be effective instrument of governance.” Critically examine the statement and give your views to improve the situation.

2. भारत में उच्चतर न्यायपालिका में न्यायाधीशों की नियुक्ति के सन्दर्भ में ‘राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग अधिनियम, 2014’ पर सर्वोच्च न्यायलय के निर्णय का समालोचनात्मक परिक्षण कीजिए |
Critically examine the Supreme Court’s judgement on ‘National Judicial Appointment of judges of higher judiciary in India.

3. “लोकसभा और राज्य विधानसभाओं के एक ही समय में चुनाव, चुनाव-प्रचार की अवधि और व्यय को तो सिमित कर देंगे, परन्तु ऐसा करने से लोगों के प्रति सरकार की जवाबदेही कम हो जायेगी |” चर्चा कीजिए |
“Simultaneous election to the Lok Sabha and the State Assemblies will limit the amount of time and money spent in electioneering but it will reduce the government’s accountability to the people.” Discuss.

4. भारतीय राजनितिक प्रक्रम को दबाव समूह किस प्रकार प्रभावित करते हैं ? क्या आप इस मत से सहमत हैं कि हाल के वर्षों में अनौपचारिक दबाव समूह, औपचारिक दबाव समूहों की तुलना में ज्यादा शक्तिशाली रूप से उभरे हैं ?
How do pressure groups influence Indian political process? Do you agree with this view that informal pressure groups have emerged as more powerful than formal pressure groups in recent years?

5. जनता के प्रति सरकार की जवाबदेही स्थापित करने में लोक लेखा समिति की भूमिका की विवेचना कीजिए |
Discuss the role of Public Accounts Committee in establishing accountability of the government to the people.

6. “जल, सफाई एवं स्वच्छता की आवश्यकता को लक्षित करने वाली नीतियों के प्रभावी क्रियान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए लाभार्थी वर्गों की पहचान को प्रत्याशित परिणामों के साथ जोड़ना होगा |” ‘वश’ योजना के सन्दर्भ में इस कथन का परिक्षण कीजिए|
“To ensure effective implementation of policies addressing water, sanitation and hygiene needs the identification of the beneficiary segments is to be synchronized with the anticipated outcomes.” Examine the statement in the context of the WASH scheme.

7. क्या निःशक्त व्यक्तियों के अधिकार अधिनियम, 2016 समाज में अभीष्ट लाभार्थियों के सशक्तिकरण और समावेशन की प्रभावी क्रियाविधि को सुनिश्चित करता ? चर्चा कीजिए |
Does the Rights of Persons with Disabilities Act, 2016 ensure effective mechanism for empowerment and inclusion of the intended beneficiaries in the society? Discuss.

8. अब तक भी भूख और गरीबी भारत में सुशासन के समाख सबसे बड़ी चुनौतियां हैं | मूल्यांकन कीजिए कि इन भारी समस्याओं से निपटने के क्रमिक सरकारों ने किस सीमा तक प्रगति की है | सुधार के लिए उपाय सुझाइए |
Hunger and poverty are the biggest challenges for good governance in India still today. Evaluate how far successive governments have progressed in dealing with these humongous problems, Suggest measures for improvement.




9. “चीन अपने आर्थिक संबंधों एवं सकारात्मक व्यापार अधिशेष को, एशिया में संभाव्य सैनिक हैसियत को विकसित करने के लिए, उपकरणों के रूप में इस्तेमाल कर रहा है |” इस कथन के प्रकाश में, उसके पड़ोसी के रूप में भारत पर इसके प्रभाव पर चर्चा कीजिए |
“China is using its economic relations and positive trade surplus as tools to develop potential military power status in Asia.” In the light of this statement, discuss its impact on India as her neighbour.

10. संयुक्त राष्ट्र आर्थिक व सामाजिक परिषद् (इकोसॉक) के प्रमुख प्रकार्य क्या हैं? इसके साथ संलग्न विभिन्न प्रकार्यात्मक आयोगों को स्पष्ट कीजिए |
What are the main functions of the United Nations Economic and Social Council (ECOSOC)? Explain different functional commissions attached to it.

11. संविधान (एक सौ एक संशोधन) अधिनियम, 2016 के प्रमुख अभिलक्षणों को समझाइए | क्या आप समझते हैं कि याग ” करों के सोपनिक प्रभाव को समाप्त करने में और माल तथा सेवाओं के लिए साझा राष्ट्रीय बाजार उपलब्ध कराने में ” काफी प्रभावकारी है ?
Explain the salient features of the Constitution (One Hundred and First Amendment) Act, 2016. Do you think it is efficacious enough “to remove cascading effect of taxes and provide for common national market for goods and services”?

12. निजता के अधिकार पर उच्चतम न्यायालय के नवीनतम निर्णय के आलोक में, मौलिक अधिकारों के विस्तार का परिक्षण कीजिए |
Examine the scope of Fundamental Rights in the light of the latest judgement of the Supreme Court on Right to Privacy.

13. भारतीय संविधान में संसद के दोनों सदनों का संयुक्त सत्र बुलाने का प्रावधान है | उन अवसरों को गिनाइए जब सामान्यतः यह होता है तथा उन अवसरों को भी जब यह नहीं किया जा सकता, और इसके कारण भी बताइए |
The Indian constitution has provisions for holding joint session of the two Houses of the Parliament. Enumerate the occasions when this would normally happen and also the occasions when it cannot, with reason thereof.

14. भारत में लोकतंत्र की गुनता को बढाने के लिए भारत के चुनाव आयोग ने 2016 में चुनावी सुधारों का प्रस्ताव दिया है | सुझाए गए सुधार क्या हैं और लोकतंत्र को सफल बनाने में वे किस सीमा तक महत्वपूर्ण हैं ?
To enhance the quality of democracy in India the Election Commission of India has proposed electoral reforms in 2016. What are the suggested reforms and how far are they significant to make democracy successful?

15. महिलायें जिन समस्याओं का सार्वजनिक एवं निजी दोनों स्थलों पर सामना कर रही हैं, क्या राष्ट्रीय महिला आयोग उनका समाधान निकालने की रणनीति बनाने में सफल रहा है ? अपने उत्तर के समर्थन में तर्क प्रस्तुत कीजिए |
Is the National Commission for Women able to strategize and tackle the problems that women face at both public and private spheres? Give reasons in support of your answer.

16. “वर्तमान समय में स्वयं-सहायता समूहों का उदभव राज्य के विकासात्मक गतिविधियों से धीरे परन्तु निरंतर पीछे हटने का संकेत है |” विकासात्मक गतिविशियों में स्वयं-सहायता समूहों की भूमिका का एवं भारत सरकार द्वारा स्वयं-सहायता समूहों को प्रोत्साहित करने के लिए किये गए उपायों का परिक्षण कीजिए |
“The emergence of the Self-Help Groups (SHGs) in contemporary times points to the slow but steady withdrawal of the State from developmental activities.” Examine the role of the SHGs in developmental activities and the measures taken by the Government of India to promote the SHGs.




17. “भारत में निर्धनता न्यूनीकरण कार्यक्रम तब तक केवल दर्शनीय वस्तु बने रहेंगे जब तक कि उन्हें राजनैतिक इच्छाशक्ति का सहारा नहीं मिलता है |” भारत में प्रमुख निर्धनता न्यूनीकरण कार्यक्रमों के निष्पादन के सन्दर्भ में चर्चा कीजिए |
“Poverty alleviation programmes in India remain mere showpieces until and unless they are backed up by political will.” Discuss with reference to the performance of the major poverty alleviation programmes in India.

18. प्रारम्भिक तौर पर भारत में लोक सेवायें तटस्थता और प्रभावशीलता के लक्षों को प्राप्त करने के लिए अभिकल्पित की गई थी, जिनका वर्त्तमान सन्दर्भ में अभाव दिखाई देता है | क्या आप इस मत से सहमत हैं कि लोक सेवाओं में कड़े सुधारों की आवश्यकता है ? टिप्पणी कीजिए |
Initially Civil Services in India were designed to achieve the goals of neutrality and effectiveness, which seems to be lacking in the present context. Do you agree with the view that drastic reforms are required in Civil Services? Comment.

19. भारत की उर्जा सुरक्षा का प्रश्न भारत की आर्थिक प्रगति का सर्वाधिक महत्वपूर्ण भाग है | पश्चिम एशियाई देशों के साथ भारत के उर्जा नीति सहयोग का विश्लेषण कीजिए |
The question of India’s Energy Security constitutes the most important part of India’s economic progress. Analyze India’s energy policy cooperation with West Asian countries.

20. दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों की अर्थव्यवस्था एवं समाज में भारतीय प्रवासियों को एक महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है | इस सन्दर्भ में, दक्षिण-पूर्व एशिया में भारतीय प्रवासियों की भूमिका का मूल्यनिरूपण कीजिए |
Indian diaspora has an important role to play in South-East Asian countries’ economy and society. Appraise the role of Indian diaspora in South-East Asia in this context.

Facebook Comments

You may also like...

error: Content is protected !!